कपिल मिश्रा- केजरीवाल के खिलाफ जाऊंगा एंटी-करप्शन ब्यूरो(ACB)

18 Oct 2017 11:13 AM

आम आदमी पार्टी (AAP)में सियासी तूफान लाने वाले कपिल मिश्रा अब भी अपने रुख पर कायम हैं.एक इंटरव्यू  में मिश्रा ने ना सिर्फ अपने आरोपों को दोहराया बल्कि ये भी साफ किया कि वो इसकी शिकायत एंटी-करप्शन ब्यूरो से करने जा रहे हैं. मिश्रा ने बार-बार कहा कि उनकी बात पर भरोसा तब होगा जब सत्येंद्र जैन जेल जाएंगे लेकिन अरविंद केजरीवाल को जेल भेजने की बात कहने से वो बचते रहे.


कपिल मिश्रा ने बताया कि वो सत्येंद्र जैन और अरविंद केजरीवाल के बीच हुए कथित लेनदेन की जानकारी एंटी-करप्शन ब्यूरो को देंगे. मिश्रा के मुताबिक वो इस सिलसिले में सोमवार को 11 बजे ब्यूरो जाने वाले हैं. उन्होंने कहा कि वो  इस मामले में गवाह बनने के लिए भी तैयार हैं. 


कपिल मिश्रा ने दावा किया कि उन्होंने 2 साल पहले टैंकर घोटाले की रिपोर्ट अरविंद केजरीवाल को सौंपी थी. लेकिन सरकार ने कोई कार्रवाई नहीं की. मिश्रा की मानें तो केजरीवाल के सलाहकारों आशीष तलवार और विभव पटेल ने अरविंद केजरीवाल  को इस मामले में कार्रवाई करने से रोका.


एक ओर जहां मिश्रा ने दावा किया कि वो केजरीवाल की कैबिनेट के इकलौते बेदाग मंत्री हैं, वहीं दूसरी ओर केजरीवाल और सत्येंद्र मिश्रा पर संगीन आरोपों को दोहराया.


कपिल मिश्रा के मुताबिक उन्होंने पार्टी के भीतर पंजाब चुनाव की फंडिंग और सत्येंद्र जैन के कथित भ्रष्टाचार को लेकर भी सुगबुगाहट सुनी है लेकिन उन्होंने इन बातो को गंभीरता से नहीं लिया क्योंकि वो केजरीवाल को ईमानदार नेता मानते थे. मिश्रा का दावा था कि उनके कहने पर केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन की बेटी से इस्तीफा लिया था.

 . 

कपिल मिश्रा ने  दावा किया किएंटी-करप्शन ब्यूरो( एसीबी) से मिलने का वक्त मांगने के बाद ही केजरीवाल ने उन्हें मंत्रीपद से हटाया. मिश्रा की मानें तो केजरीवाल ने सत्येंद्र जैन से पैसे लेने के बाद उनसे कहा था कि राजनीति ऐसी  बातें होती रहती हैं.